Monday, February 6, 2023
spot_img

पटवारियों ने की एसडीएम की शिकायत महिला आयोग से, दी आत्मदाह की चेतावनी


बलरामपुर/रामानुजगंज। दो महिला पटवारियों ने एसडीएम पर दुर्व्यवहार सहित कई अन्य गंभीर आरोप लगाए है और मामले की शिकायत राज्य महिला आयोग से की है। मामला बलराम रामानुजगंज जिले के राजपुर अनुविभागीय क्षेत्र का है। शिकायत पटवारी संघ के अध्यक्ष एवं शिकायत की प्रतिलिपि मुख्यमंत्री को भेजकर एसडीएम के खिलाफ जांच व कार्रवाई नहीं होने पर आत्मदाह करने की चेतावनी दी है। राजपुर अनुविभाग में पदस्थ महिला पटवारी अनुमति पैकरा व बीना भगत ने राज्य महिला आयोग और पटवारी संघ के अध्यक्ष धीरेंद्र उरमालिया को भेजे गए पत्र में आरोप लगाया है कि राजपुर एसडीएम शशि कुमार चौधरी द्वारा उन्हें लगातार प्रताड़ित किया जा रहा है। जबरन दवाब बनाकर गलत प्रतिवेदन बनवाया जाता है और पक्षकारों से अवैध उगाही करने दबाव डाला जाता है। एसडीएम द्वारा बैठक में भी उनके साथ अभद्रता की जाती है। बरसात के मौसम में भी एसडीएम द्वारा उनकी सर्वे की ड्यूटी लगाई गई। एसडीएम पर महिला कर्मियों ने मानसिक रूप से प्रताड़ित करने एवं डीई कराकर नौकरी समाप्त कर देने व सीआर खराब करने की धमकी देकर प्रताड़ित करने सहित अन्य गंभीर आरोप लगाए हैं।
45 व 70 किमी दूर केंद्रों में लगाई ड्यूटी
महिला पटवारियों बीना भगत को तहसील मुख्यालय से करीब 45 किमी दूर ग्राम तोनी के धान खरीदी केंद्र पर एसडीएम ने ड्यूटी पर लगाया है। अनुमति पैकरा को ककना मुख्यालय से 70 किलोमीटर दूर धान खरीदी केंद्र तोनी में ड्यूटी के लिए निर्देशित किया गया है। महिला कर्मियों ने आरोप लगाया है कि एसडीएम द्वारा ऐसा जान बूझकर प्रताड़ित करने के लिए किया जा रहा है। 
कार्रवाई नहीं होने परआत्मदाह की चेतावनी
महिला पटवारियों ने एसडीएम पर प्रताड़ित करने, अभद्र व्यवहार करने का आरोप लगाते हुए शिकायत की प्रतिलिपि मुख्यमंत्री, मानवाधिकार आयोग, आर्थिक अपराध एवं अन्वेषण ब्यूरो, मुख्य सचिव सामान्य प्रशासन विभाग, आयुक्त सरगुजा संभाग, पुलिस महानिरीक्षक सरगुजा रेंज, कलेक्टर बलरामपुर और पुलिस अधीक्षक बलरामपुर को भी प्रेषित की है। कार्रवाई नहीं होने पर दोनों ने आत्मदाह की चेतावनी दी है।
एसडीएम बोले, आरोप निराधार
मामले में राजपुर एसडीएम शशि चौधरी ने दोनों महिला पटवारियों द्वारा लगाए गए आरोपों को निराधार बताते हुए कहा कि दोनों महिला पटवारियों के खिलाफ शिकायत की जांच चल रही है। जांच से बचने के लिए दोनों ने आरोप लगाए हैं। आरोप पूरी तरह से निराधार है।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,702FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles