Wednesday, November 30, 2022
spot_img

भाजपा नेत्री पर दिव्यांग नोकरानी के साथ क्रूरता का आरोप, कांग्रेस ने भाजपा पर बोला हल्ला

रांची। देश मे अत्याचार पर बड़ी-बड़ी बात करने वाले नेता ही अत्याचार करने में लगे है। देश इसके दो ताजा मामले सामने आए है। इसमें ताजा मामला झारखंड में भाजपा की महिला नेत्री का है। जिस पर उनकी नोकरानी ने कई गम्भीर आरोप लगाए है।
बीजेपी महिला नेत्री सीमा पात्रा पर आरोप है कि उन्होंने एक दिव्यांग लड़की को बंधक बनाकर 8 साल तक उससे घर के काम करवाए और छोटी-छोटी गलती पर उसके साथ क्रूरता की। भाजपा नेत्री सीमा पात्रा सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी की पत्नि है।
बीजेपी नेता सीमा पात्रा पर आरोप है कि उन्होंने आठ साल तक दिव्यांग लड़की को घर में बंधक बनाकर रखा। इस दौरान उन्होंने बंधक बनाई गई लड़की से न केवल घर के काम करवाएं। बल्कि क्रूरता की हदें पार करते हुए उससे जीभ से फर्श तक साफ कराया। नौकरानी सुनीता ने बताया कि सीमा पात्रा ने उन्हें कई दिनों तक भूखा-प्यासे कमरे में बंद कर रखा। लोहे की रॉड मारकर उसके दांत तक तोड़ दिए।
इधर रिम्स में सुनीता का इलाज कर रहे डॉक्टरों का कहना है कि जब उसे यहां लाया गया था, तब वह बहुत कमजोर थी। धीरे-धीरे उसकी स्थिति में सुधार हो रहा है। दूसरी ओर पुलिस ने बताया कि नौकरानी सुनीता के ठीक होने के बाद उसे अदालत के सामने पेश किया जाएगा। बयान के आधार पर आगे की कार्रवाई होगी। वहीं मामले की जानकारी सामने आने के बाद कांग्रेस बीजेपी पर हमलावर है।
पुलिस ने सीमा के घर से कराया था मुक्त
नौकरानी को पुलिस ने 22 अगस्त को भाजपा नेत्री के रांची के अशोकनगर स्थित आवास से मुक्त कराया। बाद उसे रिम्स में भर्ती कराया गया है, जहां उसका उपचार जारी है। उपचार के लिए भर्ती सीमा पात्रा की नौकरानी सुनीता ने बताया कि उन्होंने गर्म तवे से शरीर के कई हिस्सों में दागा, जिसके निशान अभी भी हैं। इलाज के दौरान ही उसने बीजेपी नेता सीमा पात्रा की दरिंदगी और अपने ऊपर हुए जुल्मों की दांस्ता सुनाई।
सुनीता ने कहा उनका बेटा उसे बचाता था
सुनीता ने बताया कि सीमा पात्रा ने जीभ से पेशाब साफ करने पर भी मजबूर किया। नौकरानी सुनीता ने बताया कि उनका बेटा आयुष्मान ने मुझ पर जब भी जुल्म होता देखा और हर बार बचाने की कोशिश की। सुनीता का आरोप है कि खाना न दिए जाने के कारण वह काफी कमजोर हो गई थी, यहां तक कि उससे खड़ा तक नहीं हुआ जाता था। इसके बावजूद सीमा पात्रा उससे घर के काम करवाती थी।
आदिवासी परिवार से है सुनीता
सुनीता आदिवासी समुदाय की है। वो गुमला के एक गांव की रहनेवाली है। बताया गया कि करीब 8 साल पहले वह सीमा पात्रा के घर मेड के तौर पर काम करने के लिए लाई गई थी। बाद में वह दिल्ली में उनकी बेटी वत्सला पात्रा के साथ भेज दी गई। दिल्ली से उनके तबादले के बाद सुनीता वापस रांची सीमा पात्रा के घर आई। जहां बात-बात पर उसकी पिटाई की गई। दर्जनों बार उसे गरम तवे से दागा गया।
*इंसानियत मर गई थी उसकी *
सुनीता ने बताया कि जिस कमरे में उसे बंद किया गया, वहीं उसका बेडरूम और बाथरूम था। लगातार पिटाई से वह इस तरह अशक्त हो गई थी कि फर्श पर घिसट-घिसट कर चलती थी। उसने बताया कि अगर गलती से मेरा पेशाब कमरे से बाहर चला जाता तो उसे अपने मुंह से उसे चाट कर साफ करना पड़ता था। सुनीता के साथ क्रूरता की हदें पार करने वाली भाजपा नेता सीमा पात्रा का इस मामले पर अभी तक कोई पक्ष नहीं आया है।
कांग्रेस विधायक ने बीजेपी पर लगाए आरोप
कांग्रेस विधायक दीपिका सिंह पांडे ने
भाजपा नेता सीमा पात्रा पर सनसनीखेज आरोप के बाद ट्वीट कर कहा कि लानत है आपकी नेता सीमा पात्रा पर, जिसने एक महिला को बंधक बनाकर उसके साथ क्रूरता की सभी हदें पार कर दीं। उन्होंने पूछा कि कहां हैं स्मृति ईरानी, क्यों सोया है भाजपा का महिला मोर्चा। उतरिए सड़क पर और सख्त सजा की मांग करिए। वहीं मीडिया रिपोर्ट के अनुसार सीमा पात्रा की दरिंदगी की कहानी सामने आने के बाद बीजेपी ने उसे पार्टी से निष्कासित कर दिया है।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,588FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles