Wednesday, November 30, 2022
spot_img

पेड़ से टकराई तेज रफ्तार कार, सवार दो युवकों की मौत

यातायात नियमों की अनदेखी से हो रहे सड़क हादसे




महासमुंद। रविवार रात एनएच 353 में हुए सड़क हादसे में दो युवकों ने जान गंवा दी। घोड़ारी की ओर से आ रही एक तेज रफ्तार कार अनियंत्रित होकर पेड़ से टकरा गई जिससे उसमें सवार शहर के दो युवकों की मौत हो गई।
जानकारी के अनुसार हाऊसिंग बोर्ड कॉलोनी निवासी विकास उर्फ छोटू साहू पिता राजू (21), बीटीआई रोड पीएचई ऑफिस निवासी आर्यन मिश्रा (22) रविवार रात करीब 10 बजे कार क्रमांक सीजी 07 एडब्लू 2035 से घोड़ारी से रात में वापस लौट रहे थे। एनएच 353 में ग्राम बेलसोंडा के समीप उनकी कार सड़क किनारे एक पेड़ से टकरा गई। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि कार के सामने का हिस्सा पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया। घटनास्थल पर ही दोनों ने दम तोड़ दिया। घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस की टीम मौके पर पहुंची। शवों को पीएम के लिए जिला अस्पताल सह मेडिकल कॉलेज भेजा गया जहां सुबह पीएम पश्चात शव परिजनों को सौंप दिया गया। घटना की खबर से शहर में शोक का माहौल है।
जनवरी 2022 से अक्टूबर तक के सड़क हादसों पर नजर डालें तो अब तक 385 सड़क हादसों में 227 ने जान गंवाई है जबकि 310 घायल हुए हंै। इधर, नवंबर में पिछले 6 दिनों के भीतर 6 सड़क हादसे में 4 की मौत और 5 घायल हुए हैं।
महिला समेत तीन युवकों ने गंवाई थी जान
करीब 6 माह पूर्व झलप-तेन्दूकोना मार्ग में विवाह कार्यक्रम में शामिल होने रिश्तेदार के बेटों के साथ बाइक से देर रात घर आ रहे मां-बेटे सड़क हादसे का शिकार हो गए थे। घटना में मां बेटे के साथ बाइक से लेने गए दो भाईयों की भी दर्दनाक मौत हो गई थी। इसी तरह पिछले माह मामा के घर जा रहे पटेवा निवासी दो भाईयों को एनएच 53 में एक तेज रफ्तात अज्ञात वाहन ने ठोकर मार दी जिससे दोनों की मौत हो गई।  
तेज गति और नियमों की अनदेखी हादसे की वजह
यातायात एसडीओपी राजेश देवांगन ने बताया कि जिले में बढ़ते सड़क हादसों की वजह तेज गति से वाहन चलाने के साथ ही यातायात नियमों की अनदेखी है। हाईवे में सपाट सड़क और स्पीड ब्रेकर के अभाव में लोग वाहनों की निर्धारित गति से अधिक तेज चलाते हंै और इसी दौरान सड़क में वाहन या फिर मवेशी के आने से वाहन चालक नियंत्रण खोकर हादसे का शिकार हो जाता है। पुलिस लगातार लोगों को जागरुक करने का प्रयास करती है बावजूद इस पर कुछेक लोग ही ध्यान देते हैं और ध्यान नहीं देने वाले हादसे का शिकार हो जाते हैं।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,587FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles