Monday, February 6, 2023
spot_img

काले चांवल की बिक्री के नाम पर 28 लाख की ठगी, आरोपी दिल्ली से गिरफ्तार


महासमुंद। काले चांवल के ट्रेड बाजार के नाम पर 28 लाख रुपए की ठगी करने वाले ठग गिरोह के एक आरोपी को पुलिस ने दिल्ली से गिरफ्तार किया है।
पुलिस ने बताया कि लभरा के आशीर्वाद कॉलोनी निवासी श्रीमती अनुपमा सेन पति राजेन्द्र (40) कोतवाली थाने में बीते 21 अगस्त को शिकायत दर्ज कराई थी। उनके फर्म बी टू बी द्वारा कुछ माह पूर्व माह पूर्व इन्टरनेट के माध्यम से बायर्स के लिए ग्राहक तलाश कर रहे थे। 27 अप्रैल को पुत्र अमर्त्य सेन के मोबाइल पर आरोपी अंकित तोमर ने स्वयं को ग्लोबल ट्रेड बाजार विकाशपुरी दिल्ली का कर्मी अंकित शर्मा बता फोन किया और बायर्स उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया। दो विदेशी बायर्स सोफिया, डेविस एवं डेविड कार्मन नामक व्यक्तियों से सम्पर्क कराया और काला चांवल खरीदने के लिये सौदा कराया जो दोनो काल्पनिक बायर्स ने कंपनी से प्रबंधक से बातचीत कर बताया कि उन्हे ग्लोबल ट्रेड बाजार से नम्बर मिला है। आपके काले चांवल को खरीदना चाहते है। जिसके लिये आपको यू एस पेटेंट नम्बर एवं एनओसी ,सीएसडी सर्टीफिकेट एवं उसके एनओसी तथा ग्लोबल ट्रेड सर्टीफिकेट देना होगा। इस हेतु सेन एण्ड सेन आर्गेनिक फर्म के प्रबंधक द्वारा आरोपी अंकित तोमर से बातचीत कर उपरोक्त दस्तावेजो के संबंध मे बताया तो आरोपी ने उसे प्रोतसाहित करते हुये स्वयं दस्तावेज तैयार कराने की जिम्मेदारी ली। दिव्य कम्युनिकेशन के प्रोप्राईटर विवेक तोमर को इसका मोबाइल नम्बर देकर बातचीत कराया, जो दिव्य कम्युनिकेशन की ओर से अतुल शर्मा नामक व्यक्ति ने बातचीत कर अपने दिव्य कम्युनिकेशन का पता एवं यश बैंक खाता धारक विवेक तोमर जो आरोपी का बड़ा भाई है तथा फेडरल बैंक खाता धारक आकाश शर्मा जो दिव्य कम्युनिकेशन विकाशपुरी दिल्ली में कर्मचारी है को सेन एण्ड सेन आर्गेनिक फर्म के प्रबंधक अमत्र्य सेन का मोबाईल नम्बर दिया और उपरोक्त खाता धारक आरोपियों ने वाट्सअप के माध्यम से अपना खाता क्रमांक फर्म को देकर क्रिसिल कंपनी का फेक सार्टीफिकेट बनाकर उक्त दस्तावेजो को वाट्सअप में कम्पनी के प्रबंधक अमत्र्य सेन को भेजा दस्तावेजो बनाने का 28,47,600 रूपयें लिया था। जिसमें से 18,20,000 रूपयें को आरोपी अंकित तोमर के आईसीआईसीआई बैंक में ट्रांसफर कर दिया, जिसका उपयोग आरोपी अंकित तोमर ने किया है। पुलिस ने मामले में उक्त आरोपियों के नाम से ठगी का जुर्म दर्ज कर जांच में लिया था। कोटवाली थाने से एसआई विनोद शर्मा की टीम दिल्ली तलाश करने गई। दिल्ली में आरोपियों की तलाश के दौरान सायबर सेल की तकनीकी टीम को आरोपी के लोकेशन से जुड़ी अहम जानकारी मिली। टीम ने दिल्ली के मोहन गार्डन थाना के सहयोग से आरोपी के गली नम्बर 5 स्थित घर में दबिश दी और अंकित शर्मा को धरदबोचा। आरोपी ने पूछताछ में ग्लोबल ट्रेड बाजार दिल्ली का कर्मी बता सेन एण्ड सेन फर्म के प्रबंधक से अपने बड़े भाई आरोपी विवेक तोमर दिव्य कम्यूनिकेशन के प्रोप्राईटर द्वारा उक्त कारोबार के लिए दस्तावेज हेतु 28,47,600 रुपए की धोखाधड़ी की
आरोपी को महानगर मुख्य मजिस्ट्रेड जिला न्यायालय द्वारिका दिल्ली में पेश कर ट्रांजिट रिमाण्ड पर महासमुंद लाया। महासमुंद न्यायालय में पेश कर आरोपी को प्रकरण से जुड़े अन्य आरोपियों के संबंध में पूछताछ हेतु रिमाण्ड पर लिया है। सम्पूर्ण कार्रवाई एसपी धर्मेन्द्र सिंह के मार्गदर्शन में एएसपी आकाश राव एवं एसडीओपी महासमुंद श्रीमती मंजूलता बाज के निर्देशन में थाना प्रभारी कुमारी चंद्राकर उप निरी विनोद शर्मा, आर तिलक ठाकुर एवं सायबर सेल तकनीकी टीम से सउनि0 प्रवीण शुक्ला, आर अजय जांगड़े, रवि यादव, शुभम पाण्डेय द्वारा की गई।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,702FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles