13.1 C
New York

हरेली पर्व से दो गौठानों में गोमूत्र खऱीदी प्रारंभ, पहले दिन 16 हितग्राहियों से 179 लीटर गोमूत्र खऱीदा गया

Published:

महासमुंद। हरेली पर्व के अवसर पर गुरुवार को पूरे छत्तीसगढ़  के साथ महासमुंद जि़ले के दो स्वावलंबी गौठानों पहली महासमुंद विकासखंड के ग्राम बिरकोनी और दूसरी पिथौरा विकासखंड के ग्राम गोड़बहाल से गोमूत्र की खऱीदी शुरू हो गई। गोड़बहाल में संसदीय सचिव एवं खल्लारी विधायक द्वारिकाधीश यादव बतौर मुख्य आतिथि शामिल हुए। जहां उन्होंने गाय को हरा चारा खिलाया और सरकार की महत्वपूर्ण गोधन न्याय योजना के तहत गोमूत्र खऱीदी का जिले में शुभारंभ किया। संसदीय सचिव एवं विधायक द्वारिकाधीश यादव ने खेती-किसानी से जुड़े औजारों की पूजा की। उन्होंने छत्तीसगढ़ माटी के पहली तिहार, किसानी संस्कृति, और  कृषि सभ्यता के पवित्र तिहार, हरेली की सभी को बधाई एवं शुभकामनाएँ  देते हुए  प्रकृति के आशीर्वाद सब के  ऊपर बने रहे कामना की। संसदीय सचिव यादव ने कहा कि छत्तीसगढ़ की संस्कृति और लोक परंपराओं को संरक्षित करने की दिशा में सरकार द्वारा लगातार प्रयास किए जा रहे है। बीते तीन वर्षों में हरेली की पर्व की महत्ता और इसकी लोकप्रियता में बढ़ी है। आज से यानि हरेली पर्व से राज्य में गोमूत्र खरीदी शुरू हो गयी है। . पशुपालक चार रुपए प्रति लीटर गोमूत्र बेच सकेंगे। अब तक किसान गोबर का विक्रय करते आये थे। गांव के पशुपालक चार रुपए प्रति लीटर गोमूत्र बेच सकेंगे. हरेली के मौके पर होने वाली गोमूत्र खरीदी से गौवंशपालकों को आर्थिक रूप से बड़ी मजबूती मिलेगी। अब गोमूत्र की बिक्री से भी किसानों की आय में इजाफा होगा और पशुधन विकास के कार्य को बढ़ावा मिलेगा।     इसी के साथ जिले में गोपालकों से  गोमूत्र  खरीदी की प्रक्रिया शुरू हो गई है। यहाँ 13 हितग्राहियों से 124 लीटर गोमूत्र की खऱीदी की गयी। वही बिरकोनी में भी सभापति जनपद पंचायत अमर चंद्राकर,  सहित स्थानीय जनप्रतिनिधि, ने विधिविधान से कृषि यंत्रों की पूजा की गाय को चारा और पारंपरिक व्यंजन  खिलाए। इस मौक़े पर ग्रामीणजन और प्रशासनिक अधिकारी मौजूद थे। यहाँ 3 हितग्राहियों से 55 लीटर गोमूत्र क्रय किया गया। इस प्रकार आज जि़ले की दो गोठनो में179 लीटर गोमूत्र की खऱीदी हुई।     समूह की महिलाओं को गौमूत्र से जैविक कीटनाशक बनाए जाने की विधि बताई गई। पशु चिकित्सक अधिकारी डॉ.डी.डी.झारिया ने स्व-सहायता समूह की महिलाओं को गौमूत्र की गुणवत्ता का परीक्षण करने हेतु पीएच स्ट्रिप एवं युरिनोमीटर से जांच करने की विधि बताई। इस मौक़े पर संसदीय सचिव द्वारिकाधीश यादव और अध्यक्ष जि़ला पंचायत श्रीमती ऊषा पटेल सहित अन्य जनप्रतिनिधियों ने पौधा रोपण किया। वहीं बिरकोनी में भी सभापति जनपद पंचायत अमर चंद्राकर सहित स्थानीय जनप्रतिनिधि ने विधिविधान से कृषि यंत्रों की पूजा की गाय को चारा और पारंपरिक व्यंजन खिलाए। इस मौक़े पर ग्रामीणजन और प्रशासनिक अधिकारी मौजूद थे। बिरकोनी में अतिथियों का स्वागत मुख्यकार्यपालन अधिकारी जि़ला पंचायत एस आलोक ने किया। उन्होंने गेड़़ी का भी मज़ा लिया।

Related articles

spot_img

Recent articles

spot_img