13.1 C
New York

मवेशियों के लिए गौठान का उद्घाटन नहीं, पर वाहनों की पार्किंग के लिए खुल रहा ताला

Published:

पिटियाझर गौठान के उद्घाटन का अभाव, सड़क पर बैठ रहे मवेशी


महासमुंद। शहर की सड़कों पर घूम रहे लावारिश मवेशियों को रखने के लिए पालिका द्वारा बनाए गए गौठान उद्घाटन के अभाव में शोपीस बनकर रह गया है। निर्माण के बाद भी इसका उपयोग नहीं होना पालिका के उदासीन रवैये का दर्शाता है। इधर, लावारिश मवेशियों ने शहर के मुख्य मार्ग और अन्य मार्गों को ही अपना स्थाई गौठान बना लिया है।
पिछले तीन माह से शहर के मुख्य मार्ग के अलावा गली-मोहल्ले की सड़कों को मवेशियों का जमावड़ा आम बात हो गई है। इससे राहगीर के साथ मोहल्ले के नागरिक भी परेशान हैं। इधर, पालिका की उदासीनता के चलते शहर का गौरव पथ कहा जाने वाला बीटीआई रोड हर दिन गौ पथ में तब्दील हो जाता है। शास्त्री चौक से कलेक्टोरेट कॉलोनी तक यंहा सड़क में जगह-जगह मवेशी बैठ रहते हैं जिससे राहगीरों को परेशानी का दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। इधर, इस मार्ग में स्ट्रीट लाइट नहीं होने से हादसे का भय भी बना रहता है जिसे लेकर भी प्रशासन उदासीन है।
मवेशियों के लिए नही, पर स्कूल वाहन की पार्किंग के लिए खुल रहा गोठान
गोठान का ताला भले सड़क पर घूम रहे लावारिश मवेशियों को रखने के लिए उद्घाटन नहीं होने का बहाना बनाकर बंद रखा जा रहा है,पर उक्त गोठान के सामने स्तिथ एक निजी स्कूल में बच्चों को छोड़ने के लिए आने वाली वाहनों की पार्किंग के लिए गोठान का बकायदा रोज ताला खोला जा रहा है। इस पर पालिका के जिम्मेदार कार्रवाई करने की बजाए सम्बंधित स्कूल को वाहन खड़ी करने से मना करने की बात करने की बात कह रहे है। शायद स्कूल प्रबंधन पर कार्रवाई करने में जिम्मेदारों के हाथ कांप रहे है।
कांजी हाऊस में चन्द मवेशियों को रख की जा रही खानापूर्ति
पिटियाझर में निर्मित गौठान का उद्घाटन नहीं होने से मवेशियों को कुर्मी पारा स्थित कांजी हाऊस में रखा जा रहा है। कांजी हाऊस में चंद मवेशियों को रखकर पालिका खानापूर्ति कर रही है। जबकि गोठान तैयार होने के बाद भी इसका मवेशियों के लिए नहीं खोला जाना समझ से परे है। वर्तमान में कांजी हाउस में करीब दो दर्जन मवेशी रखे गए हैं।
सब्जी बाजार में ग्राहक, व्यापारी मवेशी से परेशान
खेतों में फसल बोआई के बाद चारे-पानी के लिए भटक रहे मवेशियों ने शहर की ओर रुख कर लिया है। सड़कों पर चारा नहीं मिलने से अधिकांश मवेशियों ने सब्जी बाजार में अपना डेरा जमा रखा है जिससे यहां के व्यापारी के साथ ग्राहक भी परेशान हैं। क्योंकि बाजार में घूम रहे मवेशी व्यापारी के पसरे में रखी सब्जियों पर या फिर ग्राहकों के थैले पर रखी सब्जियों पर मुंह मार रहे हैं। यहां सुबह-शाम सब्जी व्यापारियों द्वारा भेजे जाने वाले कचरे से चारा मिल जाता है।
गोठान का नहीं हुआ है उद्घाटन
पिटियाझर में निर्मित गौठान का उद्घाटन नहीं हुआ है। इसके लिए अध्यक्ष से चर्चा हुई है। उद्घाटन के बाद मवेशियों को यहां रखा जाएगा। वर्तमान में मवेशियों को कुर्मीपारा स्थित कांजी हाऊस में रखा जा रहा है।
आशीष तिवारी-सीएमओ महासमुंद

Related articles

spot_img

Recent articles

spot_img