13.1 C
New York

भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद का स्थापना दिवस मनाया, कृषक संगोष्ठी भी हुई

Published:

महासमुंद। कृषि विज्ञान केन्द्र द्वारा भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद् का 94वां स्थापना दिवस पुरस्कार वितरण समारोह 2022 एवं कृषक संगोष्ठी का सीधा प्रसारण नई दिल्ली से वेबकास्ट के माध्यम से दिखाया गया। यह कार्यक्रम नरेन्द्र सिंह तोमर कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री के मुख्य आतिथ्य में हुआ। इस अवसर पर केन्द्रीय कृषि मंत्री ने देश के किसानों की आय दोगुनी करने की असंख्य सफल किसानों में से 75 हजार किसानों की सफलता की कहानियों के संकलन का विमोचन किया। केन्द्रीय कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी ने अपने उद्बोधन में भारतीय कृषि की वर्तमान परिदृश्य की विस्तृत चर्चा की तथा किसानों को एफपीओ से जोड़कर आय दोगुनी करने की सलाह दी। इस अवसर पर केन्द्रीय कृषि राज्य मंत्री पुरूषोत्तम रूपाला ने कृषि के क्षेत्र में कृषि विज्ञान केन्द्र एवं कृषि विश्वविद्यालय के योगदान को सराहा। केन्द्रीय कृषि मंत्री ने अपने उद्बोधन में देश के सभी सफलतम किसानों को शुभकामनाएं दी। इन कृषकों से प्रेरणा लेकर देश के अन्य किसान भी अपनी आय बढ़ाकर दोगुना करने के लिए आह्वान किया। तत्पश्चात विभिन्न पुस्तकों एवं पत्रिकाओं का विमोचन किया। 75 हजार किसानों की सफलता की कहानी की ई-बुक का भी विमोचन किया। इस परिपेक्ष्य में कृषि विज्ञान केन्द्र महासमुंद से जुड़े हुए 120 सफल किसानों की कहानी सम्मिलित की गई है। कार्यक्रम को कृषि विज्ञान केन्द्र महासमुंद के सभागार में लगभग 104 सफल कृषकों ने वेबकास्ट के माध्यम से देखा और सूना। कार्यक्रम में केन्द्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक डा सतीश वर्मा, विषय वस्तु विशेषज्ञ एचएस तोमर, कमलकांत लोधी, प्रक्षेत्र प्रबंधक, डा सत्येन्द्र गुप्ता आदि उपस्थित रहे।

Related articles

spot_img

Recent articles

spot_img