16.2 C
New York

फेडरेशन के आंदोलन के चलते जिले में नहीं हुआ बड़ा आयोजन

Published:

महासमुंद। छग का पारम्परिक पर्व हरेली आज जिलेभर में धूमधाम से मनाया गया। जहां एक ओर किसानों ने कृषि उपकरणों की पूजा-अर्चना कर परिवार की सुख समृद्धि की कामना की वहीं बच्चों ने गेड़ी का मजा लिया।
मुख्यालय से लगे मचेवा में पर्व को लेकर खासा उत्साह देखने को मिला। गांव के रामू साहू ने बताया कि वे प्रतिवर्ष पारम्परिक त्यौहार हरेली को परिवार के साथ वर्षों से मनाते आ रहे हैं। आज के दिन कृषि उपकरणों की पूजा-अर्चना कर कृषि कार्य बंद रखते हंै। पूजा में छग के पारम्परिक व्यंजन का भोग लगाते हंै। इधर, घरों के मुख्य दरवाजे में नीम और भेलवा पत्ता बांधे नजर आए। राधे साहू ने बताया कि वे यह कार्य पहले उनके पिता करते थे जिसे अब वे कर रहे हैं। शहर में भी पर्व हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। सुबह लोगों ने भी घरों में पूजा-अर्चना की और बच्चे गली मोहल्ले में गेड़ी चढ़ते हुए नजर आए।
शासन ने घोषित किया है अवकाश
राज्य शासन ने हरेली त्यौहार पर शासकीय अवकाश घोषित किया है। पिछले दो वर्षों से यह त्यौहार प्रदेश में उत्साह के साथ मनाया जा रहा है। लेकिन इस बार सरकारी अधिकारी-कर्मचारियों के अंादोलन के चलते मुख्यालय में कोई भी बड़ा आयोजन नहीं हो पाया। आज से जिले के गौठानों में गौमूत्र की खरीदी की शुरुआत की जा रही है।

Related articles

spot_img

Recent articles

spot_img