Thursday, January 26, 2023
spot_img

पेड़ से हमे मिलता है आक्सीजन, इसलिए पेड़ लगाना है जरूरी : विनोद

कृष्ण कुंज के साथ स्मृति वन में परिवारजनों के नाम पर पौधे रोपने की अपील
महासमुंद। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की पहल पर शुक्रवार को कृष्ण जन्माष्टमी पर जिलेभर के नगरीय निकायों में निर्मित कृष्ण कुंज का पौधरोपण किया गया। मुख्यालय स्तिथ संजय कानन में वन विभाग, जिला प्रशासन और नगर पालिका के संयुक्त तत्वावधान में 22 प्रजातियों के पौधे रोपे गए। कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि विधायक व संसदीय सचिव विनोद चंद्राकर, विशिष्ट अतिथि सरपंच ग्र्राम पंचायत खैरा नीलम कोसरे, कलेक्टर नीलेशकुमार क्षीरसागर और एसपी, सहित कार्यक्रम में मौजूद तमाम जनप्रतिनिधिगण और अतिथियों ने पौधरोपण कर लोगों से भी पौधे लगाने की अपील की। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए विधायक व संसदीय सचिव विनोद चंद्राकर ने कहा कि मुख्यमंत्री की पहल पर कृष्ण कुंज का निर्माण कर पौधरोपण किया जा रहा है। यहां जिले के भी सभी नगरीय निकायों में निर्मित कृष्ण कुंज में करीब 3 हजार पौधरोपण किया जा रहा है। प्रदेश के मुखिया भूपेश बघेल ने कुंज में कुल 22 प्रजाति के उन पौधों को रोपने की मंशा बनाई है जो न सिर्फ औषधि के रुप में कार्य आएंगे बल्कि लोगों के लिए बेहतर आक्सीजन भी देंगे। उन्होने कहा कि बारिश और भविष्य के लिए पेड़ पौधों का होना आवश्यक है। जिस तेजी से हम पेड़ काट रहे हैं उतनी तेजी से पौधे नहीं लगा रहे हैं। पेड़ पौधे आक्सीजन छोड़ते हैं जो हमारे साथ हमारी आने वाली पीढ़ी और बच्चों के लिए जरुरी है। पेड़ से मिलने वाला आक्सीजन हमारे लिए जीवनदायिनी है। हम सभी को अपने पूर्वजों की स्मृति में कम से कम एक पौधा लगाकर उसका पालन-पोषण करना चाहिए। प्रदेश की सरकार हरियाली बरकरार रखने के लिए ढृढ़ संकल्पित है। पर्यावरण से छेड़छाड़ और पौधरोपण न करने से मानव जाति को होने वाली प्राकृतिक आपदा पर प्रकाश डालते हुए कलेक्टर नीलेश क्षीरसागर ने कहा कि जलवायु में हो रहे लगातार परिवर्तन से मानव जाति पर इसका विपरीत प्रभाव पड़ रहा है। इससे बचने पौधरोपण और उसका संरक्षण बहुत आवश्यक है। कृष्ण जन्माष्टमी के अवसर पर कृष्ण कुंज में मटकी फोड़ कार्यक्रम का भी आयोजन किया गया। पौधरोपण पश्चात विधायक व संसदीय सचिव विनोद चंद्राकर ने मटकी फोड़ी जो कार्यक्रम में आर्कषण का केन्द्र रहा। इस मौके पर प्रशासन के अधिकारी-कर्मचारी सहित बड़ी संख्या में खैरा के ग्रामीण उपस्थित रहे।
22 प्रजातियों 3098 पौधे रोपे गए
डीएफओ पंकज राजपूत ने बताया कि शासन की पर्यावरण संरक्षण के लिए शुरु की गई कृष्ण कुंज योजना के तहत 22 प्रजातियों के 3098 पौधे जिले के पांच स्थानों पर कृष्ण कुंज में कुल 5.160 हेक्टेयर में कुल 3098 पौधे रोपे गए है। इसमें महासमुंद में 2 हेक्टेयर में 1250 पौधे रोपित किए जा रहे हैं। इसी क्रम तुमगांव में 0.720 में 450, पिथौरा में 0.400 हेक्टेयर में 160, बसना में 0.540 में 338 और सरायपाली में 1.500 हेक्टेयर में 900 पौधे रोपे जा रहे हंै। कलेक्टर नीलेशकुमार क्षीरसागर ने भी पर्यावरण संरक्षण और भविष्य के लिए पौधरोपण करने लोगों से अपील की।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,679FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles