13.7 C
New York

किसानों को मिलेगी डीएपी खाद, जल्द ही सोसाइटियों में होगा खाद का भंडारण

Published:

संसदीय सचिव की पहल पर 19 सौ मीट्रिक टन खाद की रैक पहुंची

महासमुंद। क्षेत्र के किसानों को जल्द ही डीएपी खाद मिल सकेगी। संसदीय सचिव व विधायक विनोद सेवनलाल चंद्राकर की पहल पर आज रविवार को डीएपी खाद की रैक रायपुर पहुंची। संभवत: आज देर रात तक रैक के बेलसोंडा पहुंचने की संभावना जताई जा रही है। बाद इसके खाद का भंडारण समितियों में किया जाएगा। मिली जानकारी के अनुसार पिछले कुछ दिनों से किसानों को डीएपी खाद के लिए भटकना पड़ रहा था। किसानों को डीएपी खाद भंडारण होने का बेसब्री से इंतजार था। क्योंकि खरीफ सीजन की शुरूआत हो गई है और किसान अपनी खेतों में नर्सरी लगाने की तैयारी में थे। डीएपी खाद की किल्लत होने की जानकारी मिलने पर संसदीय सचिव व विधायक श्री चंद्राकर ने शासन का ध्यानाकर्षित कराया था। बाद इसके प्रदेश के कुछ चुनिंदा जिलों में डीएपी खाद की आपूर्ति की जा रही है। जिसमें महासमुंद जिला भी शामिल हैं। संसदीय सचिव व विधायक श्री चंद्राकर ने आज रविवार को इस सिलसिले में डीएमओ राहुल कुमार से जानकारी ली। जिस पर डीएमओ राहुल कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि जिले के लिए 1900 मीट्रिक टन डीएपी खाद की रैक आज रविवार को रायपुर में लगी है। संभावना है कि आज रविवार की देर रात या फिर सुबह तक खाद की रैक बेलसोंडा में लग जाएगी। जहां से गोदाम के माध्यम से सोसाइटियों तक आपूर्ति कराई जाएगी। उन्होंने बताया कि डीएपी खाद प्रदेश के कुछ ही जिलों में आपूर्ति की गई है।

Related articles

spot_img

Recent articles

spot_img