13.1 C
New York


किसानों को मिलेगा इस साल मिलेगा धान का 2640 रूपए समर्थन मूल्य
संसदीय सचिव ने भूपेश सरकार को बताया किसान हितैषी सरकार

Published:

महासमुंद। संसदीय सचिव व विधायक विनोद सेवनलाल चंद्राकर ने कहा कि इस साल किसानों को 2640 रूपए प्रति क्ंिवटल धान का समर्थन मूल्य मिलेगा। धान के समर्थन मूल्य में सौ रूपए बढ़ोत्तरी की गई है। लिहाजा प्रोत्साहन राशि मिलाकर किसानों को इस साल प्रति क्ंिवटल 2640 रूपए मिलेगा।

संसदीय सचिव व विधायक श्री चंद्राकर ने बताया कि केंद्रीय मंत्री परिषद द्वारा खरीफ फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ाए जाने से धान की कीमत में सौ रूपए प्रति क्विंटल का इजाफा हुआ है। इससे अब किसानों को इस साल प्रति क्ंिवटल 2640 रूपए मिलेगा। अगले साल किसानों को करीब 2800 रूपए मिलने की संभावना है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के राज में किसानों को किसी भी प्रकार की कोई चिंता करने की जरूरत नहीं है। कांग्रेस की सरकार चौबीसों घंटे हर स्थिति में किसानों के साथ है। भूपेश सरकार को किसान हितैषी सरकार बताते हुए कहा कि केंद्र सरकार के अड़ंगे के बावजूद किसानों का धान 2500 रूपये की दर से खरीद रहे हैं। सरकार बनते ही किसानों का कर्जा माफ किया गया। जिससे प्रदेश के लाखों किसान लाभान्वित हुए। किसानों को उनकी उपज का समर्थन मूल्य दिलाने की सोच रखने वाले प्रदेश के मुखिया श्री बघेल किसान हित में लगातार फैसले ले रहे हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा किसानों को धान बेचने में दिक्कत न हो इस दिशा में भी प्रयास करते हुए धान उपार्जन केंद्रों की संख्या बढ़ाई गई है। महासमुंद विधानसभा क्षेत्र में ही तीन साल के कार्यकाल में छह जगहों कोसरंगी, अचानकपुर, अछोला, डूमरपाली, बडग़ांव व सराईपाली झलप में नवीन धान खरीदी केंद्र प्रारंभ की गई है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में राज्य सरकार के किसान हितैषी फैसलों से अब खेती-किसानी लाभकारी व्यवसाय बन गया है। इससे प्रदेश के किसानों की चिंता दूर हुई है।


किसानों को मिलेगा इस साल मिलेगा धान का 2640 रूपए समर्थन मूल्य
संसदीय सचिव ने भूपेश सरकार को बताया किसान हितैषी सरकार

Related articles

spot_img

Recent articles

spot_img