12.8 C
New York

ऐसा क्या हुआ कि देवर ने अपनी सगी भी की गला रेत कर हत्या कर दी, कहानी सुनकर आप रह जाएंगे हैरान

Published:

सूरजपुर। विश्रामपुर में हुई अंधे कत्ल की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है। आरोपी मृतका का देवर ही निकला। 27 अगस्त को 2022 को झोपडपट्टी नर्सरीपारा विश्रामपुर निवासी मुखदार राम ने थाना विश्रामपुर में रिपोर्ट दर्ज कराया कि 26 अगस्त को इसका मामा धनसाय घर आकर बताया कि पत्नी पतियारो की लाश मिथला मंच, सीसी रोड किनारे पड़ा है उसके गले में किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा धारदार हथियार से मारकर हत्या कर दिया है तब यह मौके पर पहुंचा, पत्नी को किसी धारदार हथियार से उसका गला काटा हुआ है, कहीं दूसरे जगह मारकर लाश को वहां रख दिया गया है। सूचना पर मर्ग कायमी उपरान्त अज्ञात आरोपी के विरूद्ध धारा 302, 201 के तहत मामला पंजीबद्ध कर जांच में लिया था। एएसपी मधुलिका सिंह व सीएसपी जेपी भारतेन्दु के मार्गदर्शन में थाना विश्रामपुर पुलिस की पूछताछ पर आरोपी ने बताया कि मृतिका घुम-घुम कर शराब पीती थी तथा नशे के हालत में बिना नाम लिए मोहल्ले वालों को गाली-गुप्तार करती थी। 25 अगस्त के शाम को काम करके घर आया तो देखा कि पतियारो इसके घर के अंदर बैठी थी और वहीं पर गंदगी कर दी थी तब यह गुस्सा कर मृतिका का पकड़कर घर से बाहर निकाला और 2-3 झापड गाल में मारा और घर चला गया। इसके बाद मृतिका मारने की बात कहते हुए गाली-गलौज करने लगी, गुस्सा लगने पर वहां से धक्का मारकर भगाया तो फिर से गाली-गलौज देने लगी, अत्यधिक गुस्सा आने पर रोज-रोज शराब पीकर गाली देती है और परेशान करने पर उसे जान से मारने का प्लान बनाया और रात्रि करीब 10-11 बजे पतियारो को पकड़कर चुपचाप खींचते हुए घर ले आया और आंगन में छोड़ दिया, घर में रखे घास काटने वाला लोहे का गड़ासा (चापड़) को लाया और गले को रेत दिया जिससे पतियारो की मृत्यु हो गई और शव को ले जाकर मिथला मंच सीसी रोड़ किनारे चरोटा झाड़ी में फेंक दिया। आरोपी के निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त गड़ासा (चापड़) व अन्य आलाजरब जप्त कर आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।
कार्रवाई में थाना प्रभारी विश्रामपुर केडी बनर्जी, थाना प्रभारी जयनगर सुभाष कुजूर, एएसआई सोहन सिंह, प्रधान आरक्षक रामनिवास तिवारी, आरक्षक अकरम मोहम्मद, अखिलेश पाण्डेय, अजय प्रताप राव, रविशंकर पाण्डेय, वाहिद हुसैन, बिहारी पाण्डेय, उमेश राजवाड़े, प्यारेलाल राजवाड़े, जय प्रकाश यादव व महिला आरक्षक तेरसा तिग्गा शामिल रहे।

Related articles

spot_img

Recent articles

spot_img