16.2 C
New York

आजाद के कांग्रेस पार्टी से इस्तीफे पर सीएम भूपेश ने क्या कहा जानिए

Published:


रायपुर। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद के पार्टी से इस्तीफा दिए जाने के बाद राजनीतिक गलियारे में हलचल मच गई हैं। गुलाम नबी आजाद के इस्तीफा पर जंहा देशभर के विभिन्न राजनीतिक पार्टी के नेताओं ने अपने बयान दिया है। वही छग प्रदेश के मुखिया सीएम भूपेश बघेल का बयान भी सामने आया है। सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि गुलाम नबी आजाद बहुत दिनों से कांग्रेस को नुकसान पहुंचाने की कोशिश कर रहे थे। कांग्रेस पार्टी ने उनको पूरा सम्मान दिया है। उन्होंने आगे कहा कि आज उन्होंने इस्तीफा दे दिया है। उनके जाने से पार्टी को कोई नुकसान नहीं होगा। वहीं सीएम भूपेश ने भाजपा की ओर से जारी किए गए बयान को लेकर भी अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि सब इतिहास जानते हैं नाथूराम गोडसे किस पार्टी से जुड़ा हुआ था। झीरम घाटी की घटना कैसे घटी। आगे उन्होंने भाजपा के प्रदर्शन को लेकर कहा कि भाजपा वाले जबरदस्ती उकसाने का काम कर रहे थे। धक्का-मुक्की कर गाली गलौज कर रहे थे। वह चाहते थे कि लाठीचार्ज हो, आंसू गैस छोड़े व वॉटर कैनल चलाएं। उसके बाद फिर वह छत्तीसगढ़ बंद कराते, लेकिन हमारी पुलिस ने धैर्य और संयम से काम लिया। बीजेपी के सारे मंसूबों पर पानी फेर दिया। इसके लिए पुलिस प्रशासन को बधाई देता हूं। सीएम बघेल ने कहा कि जब ये लोग सत्ता में थे तब भी मेरे निवास पर जूता चप्पल फेंकने का काम करते थे। आज भी विपक्ष में है तो फिर वहीं काम कर रहे हैं। इस प्रकार की हरकतें करना आदत में शामिल है। सीएम ने सवाल उठाते हुए कहा कि भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अरुण साव ओल्ड पेंशन स्कीम का समर्थन करते हैं क्या। भारत सरकार से मांग करें और बढ़िया पूरे देश में यही स्कीम लागू होना चाहिए। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से फोन पर बात करने को लेकर सीएम भूपेश ने कहा कि छत्तीसगढ़ में कल बड़ा त्यौहार है। मुख्यमंत्री निवास में इसका आयोजन किया जा रहा है। इसके लिए मैंने गृह मंत्री को आमंत्रित किया है।

Related articles

spot_img

Recent articles

spot_img